Bihar news

श्रम संसाधन विभाग के धावा दल द्वारा बाल श्रमिक को कराया गया विमुक्त

श्रम संसाधन विभाग के धावा दल द्वारा बाल श्रमिक को कराया गया विमुक्त

श्रम अधीक्षक, दरभंगा  किशोर कुमार झा द्वारा बताया गया कि केवटी प्रखण्ड के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी श्री दिलीप कुमार के नेतृत्व में केवटी प्रखण्ड, दरभंगा के विभिन्न दुकानों एवं प्रतिष्ठानों में धावा दल की टीम द्वारा सघन जाँच अभियान चलाया गया।

सघन जाँच अभियान के दौरान धावा दल की टीम द्वारा  मेसर्स क्रांति मिष्ठान भंडार ,खिरमा चौक, केवटी से 01 बाल श्रमिक  को मुक्त कराया गया।

मुक्त बाल श्रमिक को बाल कल्याण समिति के निर्देशानुसार उन्हें बाल गृह में रखा गया है।

बाल एवं किशोर श्रम ( प्रतिषेध एवं विनियमन) अधिनियम 1986 के तहत नियोजक के विरुद्ध संबंधित थाने में प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है ।

विदित हो की वित्तीय वर्ष 2024-25 में दरभंगा जिले के विभिन्न प्रखंडों से धावा दल के द्वारा अब तक 05 बाल श्रमिकों को विमुक्त कराकर उनका पुनर्वासन लगातार कराया जा रहा है।

धावा दल की टीम के द्वारा आज केवटी प्रखण्ड, दरभंगा के विभिन्न क्षेत्रों एवम सभी दुकान औचक निरीक्षण कार्यक्रम चलाया गया। बाल श्रमिक को धर पकड़ के लिए लगातार धावा दल के द्वारा जांच किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि आज की इस धावा दल टीम के सदस्य के रूप में कुशेश्वरस्थान के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी के साथ प्रयास संस्था से नारद मंडल कार्ड्स संस्था से नारायण कुमार मजमुदार, प्रोग्राम कॉर्डिनेटर अजय कुमार, डी सी पी यू के वशिष्ठ नारायण आश्रय संस्था के समीर एवं निवेश एवं अन्य शामिल थे।

श्रम अधीक्षक के द्वारा बताया गया कि धावा दल नियमित रूप से प्रत्येक सप्ताह संचालित होगा तथा दरभंगा शहर के अलावा सभी अनुमंडल मुख्यालय एवं प्रखंड मुख्यालयों में भी धावा दल संचालित किया जाएगा तथा बाल श्रमिकों को नियोजित करने वाले नियोजकों के विरूद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *